उत्तर प्रदेश में 12 साल से कम उम्र के बच्चों के अभिभावकों को मिलेगी Vaccination में प्राथमिकता

Uttar Pradesh
https://www.dna24.in

कोरोना की तीसरी लहर के संभावित खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को ‘अभिभावक स्पेशल’ बूथ बनाने के निर्देश दिए हैं. दरअसल, कोरोना की तीसरी लहर को लेकर एक्सपर्ट्स ने संभावना व्यक्त की है कि छोटे बच्चे इससे ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं. लिहाजा सीएम ने निर्देश में कहा है कि जिन अभिभावकों के बच्चे 12 साल से कम उम्र के है, उनको वैक्सीन में प्राथमिकता दी जाए.

मुख्यमंत्री ने ‘अभिभावक स्पेशल’ बूथ बनाने के लिए हर जिले में इसके लिए कार्ययोजना तैयार करने को कहा है. उन्होंने निर्देश दिया है कि हर ज़िले में अभिभावक स्पेशल बूथ बनाया जाए और 12 साल से कम उम्र वाले अभिभावकों से संपर्क कर उनको वैक्सीन दी जाए. इससे बच्चे और अभिभावक दोनों सुरक्षित रहेंगे. इसे तीसरे लहर की तैयारियों के तहत अभियान के तौर पर चलाएं.

तीसरी लहर से निपटने में जुटे मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने पिछले दिनों सैफई दौरे पर कहा था कि उनकी सरकार का लक्ष्य है कि कोरोना की तीसरी लहर से पहले प्रदेश के सभी पात्र लोगों का टीकाकरण पूरा कर ली जाए. साथ ही तीसरी लहर में बच्चों के सर्वाधिक रिस्क पर होने की संभावना को देखते हुए अभिभावकों के टीकरण को प्राथमिकता दी जाए, क्योंकि छोटे बच्चों में संक्रमण का अधिक खतरा उनके पैरेंट्स से ही है. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर लगातार जिलों का दौरा कर रहे हैं. साथ ही वे जिले में बच्चों के लिए आईसीयू बेड बनाने के भी निर्देश दिए हैं.

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *