राहुल गांधी ने कोरोना को लेकर केंद्र पर बोला हमला, लगाए गंभीर आरोप

India Politics
https://www.dna24.in

ANI: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने आज मीडिया को संबोधित किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राहुल गांधी ने मीडिया को संबोधित करते कोरोना समेत कई मुद्दों पर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा।  इस दौरान वह सरकार पर हमलावर हुए। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि हमने भारत सरकार को बार-बार COVID19 के बारे में चेतावनी दी थी। बाद में, पीएम मोदी ने COVID19 के खिलाफ भारत की जीत का इजहार किया था। यह एक उभरती हुई बीमारी है। लॉकडाउन और मास्क पहनना अस्थायी समाधान है लेकिन वैक्सीन ही COVID का स्थायी समाधान है। 

राहुल गांधी ने कहा कि भारत में COVID19 की दूसरी लहर के पीछे की वजह प्रधानमंत्री की ‘नौटंकी’ है। उन्होंने COVID19 को नहीं समझा। भारत की मृत्यु दर एक झूठ है। सरकार को सच बताना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे जिस वायरस से लड़ रहे, उसकी प्रकृति को सरकार नहीं समझ रही है। इस वायरस के म्यूटेशन के खतरों को समझें। आप पूरे ग्रह के लिए एक दायित्व बना रहे हैं। क्यों? क्योंकि आप 18% आबादी को वायरस द्वारा हमला करने की अनुमति दे रहे हैं क्योंकि केवल 3% लोगों को ही टीका लगाया जाता है।

राहुल गांधी ने कहा कि क्या कांग्रेस शासित राज्यों में मौतों की भी गलत सूचना दी गई। इस पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की, उनसे कहा कि झूठ से उन्हें ही नुकसान होगा, हकीकत को स्वीकार करने की जरूरत है। वास्तविक मौत की संख्या परेशान करने वाली हो सकती है लेकिन हमें सच बोलने पर टिके रहना चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा कि समस्या यह है कि टीकाकरण की कोई रणनीति नहीं है। प्रधानमंत्री रणनीतिक रूप से नहीं सोचते। वह एक इवेंट मैनेजर हैं, वह एक समय में एक ही इवेंट के बारे में सोचते हैं

कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों से कोरोना के मृतकों पर बात करें राहुल : भाजपा

कोरोना वायरस संक्रमण से हुई मौतों को लेकर सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाने के लिए भाजपा ने गुरुवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार किया था। भाजपा ने कहा कि उन्हें महाराष्ट्र में महामारी से हुई मौतों की ओर ध्यान दिलाया तथा कहा कि वह जानते कुछ नहीं हैं, लेकिन हर विषय पर बोलते हैं।भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा है और वहां महामारी से सबसे अधिक मौत हुई है, जबकि कांग्रेस शासित राजस्थान में वास्तविक मौतों और सरकारी आंकड़ों में बहुत फर्क है।

उन्होंने कहा, ट्विटर की दुनिया में रहने से बेहतर होगा वह फोन उठाएं और जहां जहां कांग्रेस सत्ता में है, वहां के मुख्यमंत्रियों से बात करें।पात्रा ने कहा, वह कभी जमीन पर नहीं उतरेंगे और सेवा का काम नहीं करेंगे, लेकिन हर दिन एक ट्वीट जरूर करेंगे। ऐसा करके वह कोरोना को भगा नहीं पाएंगे। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष को फोन कर अपने मुख्यमंत्रियों से बात करनी चाहिए और उनसे कोरोना के खिलाफ उपयुक्त कदम उठाने को कहना चाहिए।

राहुल गांधी ने बुधवार को अमेरिकी अखबार न्यूयार्क टाइम्स की एक रिपोर्ट साझा की थी, जिसमें कहा गया था कि भारत में कोरोना के चलते मारे गए लोगों की संख्या बताई जा रही संख्या से कहीं ज्यादा है। राहुल ने ट्वीट किया, आंकड़े झूठ नहीं बोलते, भारत सरकार बोलती है।

राहुल बोले-वैक्सीन, महंगाई है लोगों की प्राथमिकता

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे दिन के वादे पर तंज कसते हुए कहा कि लोगों की प्राथमिकता सरकार की झूठी छवि नहीं, बल्कि वैक्सीन और महंगाई है। उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि सकारात्मकता का सरकार का दावा कोरोना से मौत की वास्तविक संख्या छिपाने का स्टंट है। राहुल ने ट्वीट किया, केंद्र सरकार की प्राथमिकता- इंटरनेट मीडिया, झूठी छवि। लोगों की प्राथमिकता-रिकार्ड तोड़ महंगाई, कोरोना वैक्सीन। ये कैसे अच्छे दिन हैं?

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *