सीएम योगी ने चुनाव ड्यूटी के दौरान हुई मौत पर हर कर्मचारी को मुआवजा देने का फैसला किया

Uttar Pradesh
https://www.dna24.in

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज की बैठक में अहम दिशा-निर्देश दिये हैं. इसमें सबसे महत्वपूर्ण है चुनाव आयोग और सरकार के बीच समन्वय स्थापित करना, जिससे चुनाव ड्यूटी के दौरान शिक्षक, कर्मचारी या अन्य स्टाफ की मौत पर उनके परिजनों को मुआवजा और नौकरी दी जा सके.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुनाव आयोग के नियमों में भी बदलाव के निर्देश योगी ने दिये हैं. चुनाव आयोग के नियमों में पंचायत ड्यूटी में कोविड से संक्रमित सैकड़ों शिक्षक-कर्मचारी मुआवजे के लिए पात्र नहीं हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने आयोग का यह नियम बदलने को कहा है. ड्यूटी अवधि में संक्रमित शिक्षक-कर्मचारियों की मौत भी शामिल होगी. इसलिए CM योगी ने मुख्य सचिव और अपर मुख्य सचिव पंचायती राज को निर्वाचन आयोग से समन्वय स्थापित करके चुनाव आयोग को अपनी गाइडलाइन में संशोधन करने के निर्देश दिए हैं. जिसका आधार चुनाव में ड्यूटी करने वे कर्मचारियों को निश्चित समय सीमा के अंदर संक्रमण होने पर निधन होने को स्थिति को भी शामिल किया जाए.

टीम 9 की बैठक में CM योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर एक मौत दुखद है और राज्य सरकार की संवेदनाएं प्रत्येक कर्मचारी व उनके परिजनों के प्रति हैं. चुनाव ड्यूटी करने वाले जिन शिक्षकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों, रोजगार सेवकों, पुलिसकर्मियों और प्रत्येक उस कर्मचारी के साथ हैं. जिसकी इलेक्शन ड्यूटी के दौरान मौत हो गई है. जो उस दौरान कोरोनावायरस से संक्रमित हुआ हो या बाद में उनकी मौत हुई. राज्य सरकार इलेक्शन कमिशन की गाइडलाइन के अनुसार उनके परिवार को कंपनसेशन और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने के संबंध में राज्य चुनाव आयोग की संस्तुतियों पर कार्यवाही करती है, क्योंकि इलेक्शन कमिशन की गाइडलाइंस पुरानी हैं, तब कोरोनावायरस भी नहीं था.

इसलिए राज्य कर्मचारियों के हित में CM योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि वर्तमान परिस्थितियों के परिपेक्ष में चुनाव आयोग से इस संबंध में समन्वय स्थापित किया जाए. उन्होंने मुख्य सचिव, अपर मुख्य  सचिव पंचायती राज को आज ही निर्वाचन आयोग से समन्वय स्थापित करने और चुनाव आयोग को अपनी गाइडलाइन में संशोधन करने का अनुरोध करने के निर्देश दिए.

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *