मुख्यमंत्री योगी ने टेंपो चालक, सब्जी विक्रेताओं के लिए 15 जून से विशेष टीकाकरण अभियान

Creation Fashion Lifestyle Uncategorized
https://www.dna24.in

उत्तर प्रदेश: 1 जून से प्रदेश के सभी जिलों में टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। इसके बाद 15 जून से विशेष अभियान चलेगा, जिसमें दूध विक्रेता, सब्जी विक्रेता, ऑटो, टैम्पो और ई-रिक्शा चालक, ठेला, खोमचा, रेहड़ी, पटरी व्यवसायी आदि संबंधित वर्ग को शामिल किया जाएगा। इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। 

टीम 9 की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्ग वार अभियान चलाने से टीकाकरण को गति मिलेगी। सब्जी विक्रेता, पटरी दुकानदारों, टेंपो चालकों आदि के लिए नगरीय निकाय अथवा परिवहन विभाग से समन्वय स्थापित कर टीकाकरण शुरू कराया जाए। यह अभियान 15 जून से सभी जिलों में एक साथ शुरू होगा। 

इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि अब तक प्रदेश में 01 करोड़ 79 लाख 92 हजार 299 डोज लगाए जा चुके हैं। जबकि 18 से 44 आयु वर्ग के 19 लाख 79 हजार 399 लोगों ने टीका कवर प्राप्त कर लिया है। हमारा लक्ष्य जून माह में एक करोड़ लोगों को टीका-कवर से आच्छादित करने का है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए सभी मेडिकल कॉलेजों में 100-100 बेड के पीआईसीयू और 50 बेड का एनआईसीयू निर्माण की स्थिति की समीक्षा की। 

अभिभावक स्पेशल बूथ 
सभी 75 जिलों में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण की प्रक्रिया एक जून से प्रारंभ हो रही है। इसके साथ ही, 12 वर्ष के कम आयु के बच्चों के अभिभावकों का टीकाकरण प्राथमिकता के साथ किया जाएगा। सभी जिलों में इसके लिए अभिभावक स्पेशल बूथ भी बनाए गए हैं। वैक्सीन के लिए ऑनलाईन को-विन पोर्टल में इन अभिभावक स्पेशल बूथ का स्लॉट उपलब्ध होगा। इन बूथ पर केवल अभिभावकों का ही वैक्सीनेशन होगा। इन बूथ पर टीकाकरण के लिए अभिभावकों को अपने पाल्यों के आयु का सत्यापन कराना किया जाए।

ऑक्सीजन प्लांट की मॉनिटरिंग हो
सीएम ने कहा कि अब तक विभिन्न जिलों में 415 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किये गए हैं। इनमें 61 प्लांट क्रियाशील भी हो चुके हैं। स्थापना कार्य की रीयल टाइम मॉनीटरिंग की जाए। जिला प्रशासन इन प्लांट्स के स्थापना कार्य की सतत मॉनीटरिंग करे। रॉ मैटेरियल की उपलब्धता हो अथवा सिविल वर्क समय से पूरे किए जाएं। उतर प्रदेश ऑक्सीजन उत्पादन के पैमाने पर आत्मनिर्भर होगा। अधिकारियों ने बताया कि  24 घंटे में 496 एमटी ऑक्सीजन वितरित की गई, इसमें 285 एमटी केवल रीफिलर को उपलब्ध कराई गई। इनके पास अब 05 दिनों का बैकअप हो गया है।

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *