बलरामपुर में स्‍कूल में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से दो बच्‍चों की मौत

Uttar Pradesh
https://www.dna24.in

बलरामपुर, गौरा चौराहा थाना क्षेत्र के ग्राम जमुवरिया में रविवार शाम स्कूल के शौचालय की छत पर खेलते समय दो किशोर हाईटेंशन तार की चपेट में आ गए। करंट से झुलस कर दोनों की मौत हो गई। अब्दुल मजीद का 13 वर्षीय बेटा इदुजमा व सनाउल्ला का 12 वर्षीय बेटा फिरोज की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। इस घटना से गांव में अफरा-तफरी मच गई। ग्रामीणों व स्वजनों ने दोनों का शव छत से नीचे उतारा। रो-रो कर हाल बेहाल है।

ग्राम प्रधान उबैदुर रहमान ने बताया कि बिजली तार स्कूल परिसर के ऊपर से निकला है जो काफ़ी नीचा है। इससे दोनों किशोर करंट की चपेट में आ गए। स्वजनों ने पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया था। गौरा चौराहा थाना की पुलिस को सूचना देकर पंचनामा कराकर शव परिवारजनों को दे दिया गया। दोनों का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया है। ग्रामीणों ने स्कूल परिसर के ऊपर से निकले बिजली तार को हटवाने की मांग की है।

दो किशोर की मौत की घटना को लेकर ग्रामीण आक्रोशित है। ग्रामीण फैजुर्रहमान, अब्दुल जब्बार, जगराम, अब्दुल मलिक, बदरूदजमा ने विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है। कहाकि करीब एक माह पहले स्कूल में ही एक बालिका करंट की चपेट में आकर झुलस गई थी। उसी समय तार हटवाने के लिए प्रार्थना पत्र दिया गया था, लेकिन विभागीय अधिकारियों ने सुनवाई नहीं की। इस लापरवाही के लिए जिम्मेदार विद्युत विभाग के अधिकारी व कर्मचारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। दोनों किशोरों के स्वजन व पूर्व में झुलसी बालिका को मुआवजा दिया जाए।

एसडीओ विमलेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि घटना लापरवाही से हुई है। डंडा लेकर दोनों किशोर छत पर खेल रहे थे। इसलिए करंट की चपेट में आ गए। छत से तार की दूरी पांच मीटर है। स्कूल भी बंद चल रहा है। स्कूल परिसर से तार हटवाने के लिए शिक्षा विभाग से बजट की मांग की गई थी, लेकिन मिला नहीं। मुआवजा दिलाने के लिए विद्युत सुरक्षा खंड को रिपोर्ट दी जाएगी। मानक के अनुरूप सहायता मिलेगी।

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *