24 घंटे ऑक्सीजन सप्लाई की निगरानी कर रहा गृह विभाग अवनीश अवस्थी

Food India
https://www.dna24.in

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश में ऑक्सीजन की बढ़ी मांग को पूरा करने के लिए व्यापक स्तर पर कार्रवाई करते हुए ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ाई गई है| बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 783 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति प्रत्येक घर में की गई है| मुख्यमंत्री द्वारा समस्या के स्थाई समाधान हेतु 300 में ऑक्सीजन प्लांट भी लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं|राज्य सरकार द्वारा ऑक्सीजन उत्पादन करने वाली इकाइयों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है तथा इसके लिए एक नीति बनाई गई है|

अपार प्रमुख सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बीते 24 घंटे में प्रदेश भर में हुई ऑक्सीजन की सप्लाई का विस्तृत विवरण देते हुए बताया कि 350 मेट्रिक टन ऑक्सीजन को की आपूर्ति रिफिलस को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा की गई है| साथ ही शासन के प्रयासों के फलस्वरूप 309 मैट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों व चिकित्सा संस्थानों को तथा 124 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति ऑक्सीजन सप्लायर द्वारा सीधे निजी चिकित्सालयों को की गई है| इस प्रकार को 783 मेट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन की सप्लाई बीते 24 घंटे में प्रदेशभर के सरकारी व निजी अस्पतालों में की गई है|

अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोर्ट 4 हेतु डीआरडीओ द्वारा बनाए गए कोविड-19 के लिए प्रतिदिन 10 मेट्रिक टन ऑक्सीजन का आवंटन निर्धारित किया गया है |उन्होंने बताया कि अभी केवल परीक्षण कार्य हेतु आवश्यक ऑक्सीजन उपलब्ध कराई गई है तथा कोविड-19 कार्य प्रारंभ कर देगा इसे 10 मेट्रिक टाइम की आपूर्ति समय से सुनिश्चित कर दी जाएगी| अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि जिले वार उपलब्ध ऑक्सीजन उत्पादन प्लांट एवं उसकी क्षमता की लगातार समीक्षा की जा रही है| शासन द्वारा प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी का भी जनपद वार विवरण तैयार किया गया है| भारत सरकार द्वारा प्रदेश को आवंटित ऑक्सीजन कोटा को देखते हुए उसके अधिक उठान के प्रयास निरंतर जारी है| खाली टंकी ऑक्सीजन प्लांट पर पहुंचने में समय की बचत हेतु हवाई मार्ग का सहारा लिया गया है|

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *