एंबुलेंस खुलासा करने वाले जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव को पुलिस ने गिरफ्तार किया

Crime India Politics
https://www.dna24.in

पप्पू यादव ने तीन दिन पूर्व सांसद मद से खरीदे गए एंबुलेंस के बेकार पड़े होने को लेकर खुलासा किया था। उन्होंने खुद उस स्थल पर पहुंचकर एंबुलेंसों की तस्वीर ली थी। उन्होंने राजीव प्रताप रूडी पर इसके लिए वीडियो के साथ गंभीर आरोप लगाए थे। ठीक इसी के बाद इसके बाद बिना अनुमति के सामुदायिक भवन में अपने समर्थकों के साथ जाने और एंबुलेंस में तोड़फोड़ किए जाने के खिलाफ पप्पू यादव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। लेकिन पटना पुलिस ने गिरफ्तारी दूसरे यानि लॉकडाउन तोड़ने के मामले में की है।

बिहार में जन अधिकार पार्टी के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव की पेशी के लिए देर रात मधेपुरा सिविल कोर्ट खुला, जहां से पप्पू यादव को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इससे पहले, मंगलवार को पटना से हुई गिरफ्तारी के बाद पप्पू यादव के समर्थकों के भारी विरोध के बीच मधेपुरा ले जाया गया। रात के लगभग 10:50 बजे 30 से अधिक गाड़ियों के काफिले के साथ पप्पू यादव को मधेपुरा कोर्ट लाया गया।

मधेपुरा कोर्ट के कर्मचारी अपने कार्यालय पहुंचे, जहां से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पप्पू की पेशी हुई। पेशी के दौरान पप्पू ने कोर्ट के सामने अपनी बीमारी का भी हवाला बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की मांग की। पप्पू यादव की पेशी को लेकर बड़ी संख्या में जगह-जगह पुलिस बल की तैनाती की गई थी। फिर भी सैकड़ों समर्थक रात के अंधेरे में जगह-जगह डटे नजर आए। न्यायिक दंडाधिकारी सुरभि श्रीवास्तव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये पूर्व सांसद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में बीरपुर (सुपौल) जेल भेज दिया और बेहतर इलाज की व्यवस्था का भी आदेश दिया।

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *