आजम खां और उनके बेटे लखनऊ मेदांता में भर्ती

Crime India Politics Uttar Pradesh
https://www.dna24.in

सीतापुर की जेल में बंद सपा सांसद आजम खां की रविवार को अचानक हालत बिगड़ गई। वह और उनके बेटे अब्दुल्ला कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जेल के डॉक्टरों की निगरानी में ही उनका इलाज चल रहा था। रविवार को आजम का आक्सीजन लेबल कम होने की सूचना मिलते ही जेल प्रशासन से लेकर जिला प्रशासन हरकत में आ गया।

एडीएम, एएसपी, एसडीएम, सीओ आनन-फानन जेल पहुंचे। जिला अस्पताल से बुलाई गई डॉक्टरों की टीम ने सेहत की जांच करने के बाद आजम खां और उनके बेटे को लखनऊ रेफर कर मेदांता में भर्ती करा दिया गया है। 

जिला अस्पताल और स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार भी दोनों की सेहत पर नजर रखे हुए थे। रविवार को अचानक आजम खां की हालत बिगड़ गई। बताते हैं कि आक्सीजन लेबल कम होने से हड़कंप मच गया। जेल प्रशासन ने मामले से जिला प्रशासन को अवगत कराया। एडीएम विनय पाठक, एएसपी नॉर्थ राजीव दीक्षित, एसडीएम सदर अमित भट्ट, सीओ सिटी पीयूष सिंह, शहर कोतवाल टीपी सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस-प्रशासन के अफसर जेल के अंदर गए। काफी देर तक अंदर राय मशविरा की गई। इसके बाद एंबुलेंस बुलाई गई। कुछ देर तक एंबुलेंस जेल गेट पर खड़ी रही। इसके बाद एंबुलेंस जेल के अंदर गई। 

आजम के साथ उनकी पत्नी भी बंद थी, लेकिन कोर्ट के आदेश पर जेल से वह रिहा हो चुकी है, जबकि आजम और अब्दुल्ला अभी जेल में ही हैं। जेलर आरएस यादव ने बताया कि आजम खं को जेल की तन्हाई की उच्च सुरक्षा बैरक नंबर 1, अब्दुल्ला को बैरक नंबर 2 में रखा गया है। पेशी के लिए उन्हें रामपुर ले जाया जाता था, लेकिन कोरोना संक्रमण फैलने को लेकर पिछले काफी समय से वह पेशी पर नहीं गए थे। ऑनलाइन ही पेशी चल रही थी, इस बीच आजम और उनके बेटे की जेल प्रशासन की ओर से नियमित जांच कराई जा रही थी। कुछ लक्षण महसूस होने पर कोरोना की दोनों की जांच कराई गई थी, जिसमें 1 मई को आई रिपोर्ट में आजम खां, अब्दुल्ला आजम कोरोना संक्रमित पाए गए थे। पॉजिटिव होने के बाद दोनों लोगों को अलग-अलग बैरकों में क्वारंटीन कर जेल के डॉक्टरों की टीम की निगरानी में इलाज हो रहा है।

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *