अलीगढ़: जहरीली शराब, मरने वालों की संख्या 17 हुई, तीन निलंबित

Food Lifestyle
https://www.dna24.in

अलीगढ़ में जहरीली देसी शराब से 17 लोगों की मौत हो गई है। 14 की हालत गंभीर बनी हुई है। सीएम योगी ने सख्त रुख करते हुए आरोपियों पर रासुका लगाने के निर्देश प्रशासन को दिए। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया है। शराब के सेवन से हुई मौतों के मामले में शासन ने जिला आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा, आबकारी निरीक्षक राजेश कुमार यादव, प्रधान आबकारी सिपाही अशोक कुमार को निलंबित कर दिया।

मामले के दो फरार मुख्य आरोपियों ऋषि शर्मा और विपिन यादव पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। लोधा व खैर थाना क्षेत्र के  गांव करसुआ, अंडला में शुक्रवार सुबह एक-एक कर हुई मौत की सूचना आनी शुरु हुई तो अफसरों का रैला गांवों की तरफ दौड़ पड़ा।

ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि अंडला स्थित एचपी गैस बॉटलिंग प्लांट के सामने देसी शराब के ठेके से गांव के लोगों ने गुरुवार शाम को शराब खरीद कर पी थी। जिसके बाद सभी की तबियत बिगड़ती चली गई। रात भर उल्टियां होती रहीं। शुक्रवार सुबह गंभीर हालत में जिला मलखान सिंह अस्पताल में परिजन लेकर पहुंचे तो आठ की मौत हो गई। गंभीर मरीजों को जेएन मेडीकल कॉलेज भिजवाया।

अधिकारी अभी दो थाना क्षेत्र के गांव की घटना से निपट भी नहीं पाए थे कि दोपहर को थाना जवां के गांव छेरत में भी शराब से कई लोगों की मौतों ने नींद उड़ा दी। पुलिस-प्रशासनिक व आबकारी विभाग की टीम हांफती हुई गांव छेरत पहुंची और गंभीर हालात में लोगों को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। यहां तीन लोगों को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। एक मरीज की आंखों की रोशनी चली गई।

दोपहर बाद एडीजी जोन राजीव कृष्ण, संयुक्त आबकारी आयुक्त जोन रवि शंकर पाठक भी घटनास्थल पहुंचे। शाम तक जहरीली शराब के सेवन से 17 लोगों की मौतें हो चुकी हैं। 14 से ज्यादा लोग जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। प्रशासन ने शासन को पूरे मामले की रिपोर्ट भेजते हुए मजिस्ट्रियल जांच बैठा दी है। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि अब तक कुल 17 लोगों की मौत हो चुकी है। गैस बॉटलिंग प्लांट के चार ड्राइवरों की भी मौत हुई है। तीन शराब के ठेकों को सील किया गया है। मामले की मजिस्ट्रियल जांच बैठा दी गई है। एसएसपी कलानिधि नैथानी के अनुसार शराब के सेवन से हुए मौतों के मामलों में तीन थाना क्षेत्रों में तीन अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए गए हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छह टीमों का गठन किया गया है। चार संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर व एनएसए के अर्न्तगत कार्यवाही की जाएगी।

https://www.dna24.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *